Posts

बारिस की वजेसे बतक को गुमने मिला पालतू कुत्ते की तरह। देखिये वीडियो।

Image
चीन के तियानजिन में कुछ ऐसा हुआ जिसने हर किसी को हैरान कर दिया. चीन में बारिश से लोग काफी परेशान हैं. वहां इतनी बारिश पड़ी कि सड़कें नदियों में तब्दील हो चकी हैं. लोगों को चलना भी मुश्किल हो गया है. चीन के तियानजिन में इतना पानी भर गया कि एक महिला अपनी पालतू बतख को बाहर टहलाने ले आई. सोशल मीडिया पर उनका ये वीडियो काफी वायरल हो रहा है. यहां भारी बारिश से बाढ़ आ गई है. 24 जुलाई को एम्पिट हिट नाम के तूभान के बाद जोरदार बारिश हुई जिसके कारण ये स्थिति पैदा हुई. 
               वीडियो में देखा जा सकता है कि महिला बाहर बतख के साथ खड़ी है. वहीं बतख ने ब्लू जैकेट पहनी है. आस-पास खड़े लोग देखकर काफी हंस रहे हैं. चीन के सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म पर ये वीडियो काफी वायरल हो रहा है. इस वीडियो को Shanghaiist ने फेसबुक पर पोस्ट किया है. एक दिन में इस वीडियो को डेढ़ लाख व्यूज मिल चुके हैं. फेसबुक पर एक यूजर ने लिखा- ''अगर आप बहुत दुखी हैं तो इस वीडियो को जरूर देखें.'' वहीं एक यूजर ने लिखा- ''देखो बतख ने लाइफ जैकेट पहनी है.''



झारखंड में बी काळा जादू वाले बाबा का खौफ। दिल्ही की तराह आत्महतिया हुई परिवार के 7 लोग मरे गऐ।

Image
राजधानी दिल्ली के बुराड़ी में एक ही परिवार के 11 सदस्यों की मौत को एक महीने भी नहीं हुए कि इसी तरह की एक घटना झारखंड में हुई है. झारखंड की राजधानी रांची में एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आयी है. यहां कांके थाना इलाके के बोड़या में कोल्ड स्टोरेज के पास एक की परिवार के सात लोगों का शव रहस्यमय स्थिति में मिला है. इस घटना के बाद से पूरे इलाके में सनसनी मच गई है. रांची पुलिस मामले की जांच में जुटी है. कांके थाना प्रभारी और पुलिस के आला अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं और जांच की जा रही है. एफएसएल टीम को भी बुला लिया गया है और टीम मामले की पड़ताल में जुटी है. मिली जानकारी के मुताबिक परिवार एक किराये के मकान में रहता था और परिवार में सात लोग थे. पूरे परिवार का संदेहास्पद स्थिति में शव मिला है. फिलहाल पुलिस मामले की तफ्तीश के लिए पहुंच चुकी है. 
              इस दिल दहला देने वाली घटना को लेकर इलाके में सनसनी मच गई है. स्थानीय लोगों का कहना है कि पूरे परिवार का इस तरह से एक साथ शव मिलने का कारण समझ से परे है. लोगों का कहना है कि परिवार लोवर मीडिल क्लास का है और किसी से किसी तरह का को…

सबसे ताकतवर मछली सार्क को बी बनना पड़ा सीकर। देखिये वीडियो

Image
शार्क... यह एक ऐसा नाम है, जिसे सुनकर ही अच्छे-अच्छे तैराकों, गोताखोरों के पसीने छूट जाते हैं, और सामने आने पर तो हाथ-पैर इस तरह फूल जाते हैं कि पूछिए मत... लेकिन क्या आपने कभी सुना है कि किसी शार्क को कोई और निगल गया... जी हां, आपने सही पढ़ा... अमेरिका के फ्लोरिडा में एक ऐसा ही वीडियो सामने आया है, जिसमें कुछ मछुआरों के देखते ही देखते एक बड़ी-सी मछली ने उनके कांटे में फंसने जा रही शार्क को निगल लिया...
मछुआरों को मछलियां पकड़ने के लिए नौकाएं किराये पर उपलब्ध कराने वाली एवरग्लेड्स फिशिंग कंपनी  ने सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट फेसबुक पर एक वीडियो जारी किया है, जिसमें लगभग 500-पौंड वज़न वाली गोलियाथ ग्रुपर (या ज्यूफिश - jewfish) मछुआरों के कांटे समेत तीन-फुट लम्बी शार्क को निगलते हुए साफ नज़र आ रही है... 'न्यूज़वीक' के अनुसार, यह घटना गल्फ ऑफ मैक्सिको (Gulf of Mexico) में हुई, और यह वीडियो टूर गाइड जिमी व्हीलर (Jimmy Wheeler) ने रिकॉर्ड किया था...
फेसबुक पर लगभग दो हफ्ते पहले शेयर किए गए इस वीडियो को अब तक 62,000 से ज़्यादा बार देखा जा चुका है, और दर्जनों कमेंट भी मिले हैं... एक कमेंट …

भारत आकर सामना करने केलिए तैयार हे मालिया। सच या जूथ?

Image
करीब 9,000 करोड़ रुपये के बैंक ऋण धोखाधड़ी मामले में मुख्य आरोपी विजय माल्या भारत आने तथा कानून का सामना करने को तैयार है ? आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि माल्या ने भारतीय अधिकारियों को कुछ इसी तरह का संकेत दिया है. माल्या के खिलाफ लंदन की अदालत में भारत सरकार की ओर से प्रत्यर्पण का मामला चल रहा है. समझा जाता है कि माल्या ने भारतीय अधिकारियों को संकेत दिया है कि वह भारत आने और कानूनी प्रक्रिया का सामना करने को तैयार है. 
             साथ ही माल्या ने भगोड़ा आर्थिक अपराधी अध्यादेश के तहत उसके खिलाफ की गई कार्रवाई को चुनौती देने का भी संकेत दिया है. देश से भगे भगोड़े अपराधियों की सम्पत्ति जब्त करने के संबंध में हाल में जारी अध्यादेश के तहत सरकार माल्या की देश और विदेश में सभी संपत्तियां जब्त कर सकती है. जांच एजेंसियों के शीर्ष सूत्रों ने कहा कि माल्या के इस कदम के अंतिम तौर तरीके अभी स्पष्ट नहीं हैं.                उन्होंने इस बारे में और ब्योरा देने से इनकार किया. मुंबई में एक विशेष मनी लांड्रिंग रोधक कानून (पीएमएलए) अदालत ने पिछले महीने समन जारी कर माल्या को उसके समक्ष 27 अ…

हार्दिक पटेल को 2 साल की सजा। MLA के ऑफिस में की थी तोड़फोड़।

Image
गुजरात में पटेल आरक्षण आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल को दंगा कराने के मामले में दोषी करार दिया गया है। पटेल समेत तीन और लोगों को भी मेहसाणा दंगा मामले में दोषी करार दिया गया है। उनके अलावा जिन दो और लोगों को दोषी करार दिया गया है उनमें लालजी पटेल का भी नाम शामिल है।

         वहीं इस मामले में 14 अन्य लोगों को बरी कर दिया गया है। आरक्षण आंदोलन के दौरान हुई हिंसा की पहला घटना 23 जुलाई 2015 को भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) विधायक ऋषिकेश पटेल के दफ्तर में हुई थी। इस दौरान जमकर तोड़फोड़ और आगजनी की गई थी।         बता दें कि हार्दिक ने पाटीदारों के लिए आरक्षण की मांग की थी। इस दौरान मेहसाणा के विषनगर में दंगा हो गया था।

P.M मोदी ले गए अपनी संस्कृति रवांडा। देंगे उन्हें २०० गई। मदद होगी वह की गरीबी मिटने केलिए .

Image
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तीन अफ्रीकी देशों की यात्रा के तहत रवांडा पहुंच गये हैं. यह किसी भारतीय प्रधानमंत्री का पहला युगांडा दौरा है. पीएम मोदी अपनी इस यात्रा में रवांडा को 200 गायें देंगे. भारत सरकार के इस फैसले की चर्चा हो रही है. दरअसल इस फैसले के पीछे रवांडा सरकार की ओर से चलाई जा रही है एक योजना है जिसका नाम 'गिरिंका' है. इस योजना के तहत सरकार वहां पर कुपोषण दूर करने के लिये 3.50 लाख गांवों को गाय देगी और फिर उसके पैदा हुई एक बछिया को वह अपने पड़ोसी को देगा. इस योजना का मकसद इन गायों के दूध से परिवार अपने बच्चों का कुपोषण दूर करेंगे साथ ही दुग्ध उद्योग को भी बढ़ावा दिया जायेगा.
रवांडा में गाय को माना जाता है समृद्धि का प्रतीकभारत की तरह ही रवांडा में भी गाय को समृद्धि का प्रतीक माना जाता है. रवांडा के प्राचीन इतिहास में गाय को मुद्रा की तरह प्रयोग में लाया जाता था. आपको बता दें कि भारत की तरह रवांडा भी कृषि प्रधान देश है. यहां की 80 फीसदी खेती से जुड़ी है. रवांडा की आबादी 1.12 करोड़ है यहां की संसद में 2 तिहाई महिला सांसद हैं.  


मोदी के पहुंचने से पहले चीन के राष्ट्रपति भ…

जानिऍ कायो लगाया P.M मोदी को गले राहुल गाँधी ने। कया कहा P.M मोदी ने अपने भासन में.

Image
अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा के दौरान कांग्रेस अध्यक्षराहुल गांधी का पीएम नरेंद्र मोदी को गले लगाना चर्चा का विषय बना हुआ है. कोई इसे संसद की गरिमा का उल्लंघन बता रहा है, तो कोई राहुल गांधी का बचपना और कोई बड़प्पन. हालांकि अब पीएम मोदी ने खुद राहुल द्वारा उन्हें गले लगाने पर बड़ा बयान दिया है. कल उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर में अपनी रैली में पीएम मोदी ने विपक्ष पर अविश्वास प्रस्ताव के मुद्दे पर निशाना साधा और राहुल गांधी द्वारा गले लगाने पर भी टिप्पणी की. पीएम मोदी ने कहा कि, ''संसद में मैंने उनसे पूछा कि इस अविश्वास प्रस्ताव को लाने का कारण बताइये...लेकिन जब वे कोई कारण नहीं बता सके तो वो गले पड़ गए. हालांकि कोई संतोषजनक उत्तर नहीं दिया''. पीएम मोदी ने अपने भाषण के दौरान विपक्षी दलों को दलदल की संज्ञा दी और कहा कि जब दल के साथ दल हो तो दलदल हो जाता है और जितना ज्यादा दलदल होता है उतना ही कमल खिलता है. वो अपने भविष्य का आकलन के लिए अविश्वास प्रस्ताव लाए, लेकिन उनका आकलन गलत था. क्योंकि देश बदल चुका है. यहां बेटियां अब जाग चुकी हैं. अब उनका फॉर्मूला कभी काम नहीं आने वाला ह…